Yoga Mat in Hindi: योगा के लिए सही योगा मैट कैसे चुनें

best yoga mat in Hindi

भारत में रोजाना Yoga करने वालों की संख्या तेजी से बढ़ रही है और उसके साथ ही Yoga Mat का धंधा भी तेजी से बढ़ रहा हैं। योग करते समय आपको सुविधा, आसानी और कोई हानि नहीं होना चाहिए इसलिए आपके पास एक अच्छी योगा मैट होना जरुरी हैं। योगा मैट खरीदते समय आपने किन बातों का ख्याल रखना चाहिए इसकी जानकारी इस लेख में विस्तार में दी गयी हैं।

योगा मैट कैसे चुनें: एक पूर्ण गाइड

योगा मैट की सामग्री (Material of Yoga Mat)

योग करते समय आप आसानी से योगासन कर सके इसलिए अच्छे मटेरियल से बना योगा मैट लेना चाहिए। योगा मैट विभिन्न सामग्रियों से बने होते हैं, जिनमें पीवीसी, रबर, कॉर्क और कपास शामिल हैं। पीवीसी सबसे आम और सस्ता विकल्प है, लेकिन यह पर्यावरण के अनुकूल नहीं है। रबर टिकाऊ और पर्यावरण के अनुकूल है, लेकिन यह महंगा हो सकता है। कॉर्क और कपास प्राकृतिक सामग्री हैं, जो नरम और आरामदायक होती हैं, लेकिन वे आसानी से गंदी हो सकती हैं। ज्यादातर योग विशेषज्ञ पीवीसी से बने योगा मैट लेने की सलाह देते हैं।

क्या आप जानते हैं: रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ाने के लिए कौन से योग करना चाहिए ?

योगा मैट की लंबाई और चौड़ाई (Length of Yoga Mat)

योगा मैट ऐसी होनी चाही की आप उस पर खड़े होकर, बैठकर और लेटकर आसानी से सभी आसन कर सके। योगा मैट की लंबाई और चौड़ाई आपके शरीर की लंबाई और चौड़ाई पर निर्भर करती है। यदि आप लंबे हैं, तो आपको 6 फीट या उससे अधिक लंबी चटाई की आवश्यकता होगी। यदि आप चौड़े हैं, तो आपको 24 इंच या उससे अधिक चौड़ी चटाई की आवश्यकता होगी।

उपयोगी जानकारी: सबसे अधिक calories किस Yoga में burn होती हैं ?

योगा मैट की मोटाई (Thickness of Yoga Mat)

योग करते समय बहुत पतले योगा मैट का इस्तेमाल करने से कमर, गर्दन या पीठ में चोट लगने एयर दर्द होने का खतरा रहता हैं। योगा मैट की मोटाई आपके शरीर के प्रकार और आपकी योग करने की जगह पर निर्भर करती है। यदि आप शुरुआती हैं, तो 5-6 मिमी मोटी चटाई अच्छी होगी। यदि आप पतले हैं या कठोर सतह पर योग करते हैं, तो 8-10 मिमी मोटी चटाई बेहतर होगी। इस बात का ख्याल रखे को Yoga Mat की मोटाई 1.5 इंच से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

जरूर पढ़े: हड्डियां मजबूत करेंगे यह 7 योग

योगा मैट की बनावट (Design of Yoga Mat)

योगा मैट की बनावट चिकनी या खुरदरी हो सकती है। चिकनी बनावट में आसन करते समय फिसलने का खतरा रहता है, जबकि खुरदरी बनावट अधिक पकड़ प्रदान करती है और आसन करते समय चोट का खतरा कम हो जाता हैं।

Summer Yoga Tips: गर्मी के दिनों में कौन सा Yoga करना चाहिए और कौन सा नहीं ?

योगा मैट का रंग (Colour of Yoga Mat)

योगा मैट कई तरह के रंग और मिक्स रंगो में मिलती हैं। Yoga Mat का रंग ऐसा होना चाहिए जिसे देखकर मन को शांति मिले और प्रसन्नता हो। हर कलर का अपना एक aura होता है। ज्यादा भड़क रंग और पेचीदा desing से सरदर्द हो सकता है और अधिक समय तक योग करने में तकलीफ हो सकती हैं।

क्या आपको पता है: Blood Pressure को control करने के लिए कौन से Yoga करना चाहिए ?

योगा मैट का मूल्य (Price of Yoga Mat)

योगा मैट की कीमत सामग्री, मोटाई, और ब्रांड के आधार पर भिन्न होती है। आप अपनी बजट के अनुसार योगा मैट चुन सकते हैं। अपने योग सहकर्मियों के साथ bulk में order देने पर आपको अच्छा discount प्राप्त हो सकता हैं। कभी कभी online पर कीमत अधिक होती है और आप अपने योग शिक्षक से कम कीमत पर योग मैट ले सकते हैं।

उपयोगी जानकारी: यह योगासन से आप पत्थर भी पचा सकते हैं !

योगा मैट खरीदते समय इन बातों का भी रखे ख्याल

  • योगा मैट खरीदने से पहले, उस पर खड़े होकर देखें कि यह आपके लिए आरामदायक है या नहीं।
  • यदि आप योगा स्टूडियो में जाते हैं, तो आप वहां के योगा मैट का उपयोग करके देख सकते हैं कि आपको कौन सी सामग्री और मोटाई पसंद है।
  • योगा मैट carry करने या कही साथ में ले जाने के लिए भी आसान होना चाहिए। इसके लिए आप योगा मैट कवर या बेल्ट खरीद सकते हैं।
  • आप ऑनलाइन या योगा स्टोर से योगा मैट खरीद सकते हैं।

इस लेख में हमने अपने अनुभव पर योगा मैट कैसी होनी चाहिए इसकी जानकारी दी हैं। अगर आपको कोई सवाल है तो कृपया नीचे कमेंट में जरूर पूछे।

क्या आप जानते हैं: योग करने से पहले क्या Warm Up करना चाहिए ?

योग टिप्स: Yoga Video in Hindi

Leave a comment

अस्थमा अटैक से घबराते हैं? अब नहीं होगा अटैक, आजमाएं ये 9 योग ट्रिक