हड्डियां मजबूत करेंगे यह 7 योग

7 best Yoga for stronge bones in Hindi

आजकल लोगों का अनुचित आहार विहार के कारण लोगों में कम आयु में ही बुढ़ापें के लक्षण नजर आना शुरू हो जाता हैं। आजकल पुरुष और महिलाओं में 30 वर्ष की आयु पार करते ही कमरदर्द, जोड़ों मे दर्द और शारीरिक कमजोरी आ जाती हैं। इसकी एक प्रमुख वजह हैं हड्डियों का कमजोर हो जाना !

शरीर में कैल्शियम और विटामिन डी की कमी के साथ-साथ हड्डियों का कमजोर होने की एक प्रमुख वजह है व्यायाम की कमी। आज इस लेख में हम आपको हड्डियों को तंदुरुस्त और मजबूत बनाने के लिए कुछ योगासन की जानकारी देने जा रहे है जिनके नियमित अभ्यास करने से आपकी हड्डियां और स्नायु मजबूत रहेंगे।

Best 7 Yoga for strong Bones in Hindi

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए आपको निचे बताये हुए योगासन जरूर करने चाहिए :

सूर्यनमस्कार

suryanamaskar yoga for strong bones in Hindi

सूर्यनमस्कार योग में एक साथ कुल १२ योग किये जाते हैं। यह योग करने से सम्पूर्ण शरीर का व्यायाम हो जाता हैं। आप रोजाना 5 सूर्यनमस्कार से शुरू करे और हर रोज एक-एक जोड़ते हुए इसकी संख्या बढ़ाए। अपने शक्ति अनुसार आप रोजाना 25 से 50 सूर्यनमस्कार भी कर सकते हैं। इसे करने से हड्डियां तो मजबूत होती ही है साथ में पाचन, रोग प्रतिकार शक्ति और स्पाइन से जुडी समस्या भी दूर होती हैं।

जरूर पढ़े – कैसे करे सूर्यनमस्कार और इसके फायदे

भुजंगासन

Bhujangasana Yoga cobra pose in Hindi

सांप जैसे फ़ना उठाता है ठीक उसी तरह इस आसन में शरीर की आकृति होती है इसलिए इसे कोबरा पोज़ भी कहा जाता हैं। सांप की तरह लचीला शरीर यह योग करने से होता हैं। इससे हड्डियां मजबूत होती हैं और स्पाइन से जुडी समस्या भी दूर होती हैं। इस आसन से कलाइयों की हड्डियों में भी मजबूती आती है और उंगलियों में गठिया की परेशानी हो तो आराम मिलता हैं।

जरूर पढ़े – कैसे करे भुजंगासन और इसके फायदे

सेतु बंधासन

setubandhasana yoga in Hindi

यह कमरदर्द के लिए सबसे उपयोगी आसन हैं। इसके अलावा यह गर्दन और घुटनों के दर्द में भी राहत देता हैं। मसल्स को मजबूती और लचीला बनाता हैं। सर्वाइकल स्पोंडीलायटिस की समस्या अधिक है तो यह योग न करे। अभ्यास के साथ धीरे-धीरे इस योग का समय बढ़ाए।

यह भी पढ़े – सेतु बंधासन की विधि और फायदे

वृक्षासन

vrikshasana yoga in Hindi

इसमें दोनों हाथों को जोड़कर एक पैर पर खड़ा होना होता हैं। जैसे की इस चित्र में दिखाया गया हैं। इसमें रीढ़, कमर और पेडू की हड्डी मजबूत होती हैं। इससे एकाग्रता भी बढ़ती हैं। इस आसन का नियमित अभ्यास करने से बॉडी की स्टेबिलिटी बढ़ती है और शरीर वृक्ष के सामान मजबूत बनता है।

जरूर पढ़े – कैसे करे वृक्षासन और इसके फायदे 

उत्कटासन

utkatasana yoga chair pose in Hindi

इसे Chair Pose नाम से भी जाना जाता हैं। इसमें जैसे हम खुर्ची पर बैठते है ठीक उसी तरह पोज़ करना होता हैं। इसके अभ्यास से बॉडी के मसल्स और हड्डियां मजबूत होती है। हमारी सहनशक्ति में इजाफा होता हैं। सीना बड़ा और कंधे स्ट्रांग होते हैं।

अवश्य पढ़े – कैसे करे उत्कटासन और इसके फायदे

ताड़ासन

tadasana yoga in Hindi

अगर आप हड्डियां मजबूत करने के साथ अपनी हाइट भी बढ़ाना चाहते है तो ताड़ासन का अभ्यास रोजाना जरूर करे। विशेषकर १२ वर्ष से १८ वर्ष के बिच के बच्चे या आसन करने से अपने माँ बाप से भी लम्बे हो सकते हैं। इस आसन से पैर और हात के स्नायु और हड्डियां मजबूत होती हैं। बॉडी का बैलेंस अच्छा रहता हैं। फ्लैट फ़ीट की समस्या नहीं होती हैं। गर्भावस्था में यह योग न करे।

अवश्य पढ़े – ताड़ासन की विधि और लाभ

वज्रासन

vajrasana yoga in Hindi

यह एक अकेला योगासन है जो आप खाना खाने के बाद भी कर सकते हैं। इस आसान से आपके पैर की हड्डियां वज्र के समान कठोर बन जाती हैं। इससे आपका पाचन भी ठीक रहता हैं। मोटापा कम करने के साथ साथ यह महिलाओं में मासिक धर्म से जुडी समस्या भी दूर करता हैं। जोड़ों में सूजन या लिगामेंट इंजुरी होने पर वज्रासन न करे।

अवश्य पढ़े : वज्रसान की विधि, लाभ और सावधानी

इस तरह आप रोजाना ऊपर बताये हुए विशेष 7 योगासन का नियमित अभ्यास कर अपनी हड्डियों को मजबूत बना सकते है और बुढ़ापे की समस्या को दूर भगा सकते हैं।  योगासन के साथ सतह अपने आहार में कैल्शियम और विटामिन डी युक्त आहार का समावेश अवश्य करे।

अगर आपको यह 7 Best Yoga for strong Bones in Hindi जानकारी उपयोगी लगती है तो कृपया इसे शेयर जरूर करे।

अगर आपको योग या अन्य किसी स्वास्थ्य विषय से जुड़ा प्रश्न है तो कृपया कमेन्ट मे या Contact Us मे जरूर पूछें। मैं जल्द से जल्द आपके सवालों के जवाब देने का प्रयास करूंगा। धन्यवाद !

Leave a comment

क्या इडली सांबर है पौष्टिक आहार? पढ़े डॉक्टर्स की राय