Stainless Steel Bartan: स्टेनलेस स्टील के बर्तन में खाना पकाने और खाने के नुकसान

stainless steel ke bartan ke nuksan kya hai

कई घरों में स्टेनलेस स्टील (Stainless Steel) के बर्तनों में खाना पकाने और खाने के लिए उपयोग में लिए जाते हैं। क्या आपको जानकारी है की स्टेनलेस स्टील के बर्तनों का उपयोग करने के क्या फायदे और नुकसान हैं? अगर नहीं तो आजका यह लेख विस्तार में जरूर पढ़े।

उपयोगी जानकारी: खाना 32 बार चबाकर क्यों खाना चाहिए ?

स्टेनलेस स्टील के बर्तन में खाना पकाने और खाने के नुकसान (Stainless Less steel utensils side effects in Hindi)

स्टेनलेस स्टील के बर्तन में खाना पकाने और खाने से होनेवाले नुकसान की जानकारी नीचे दी गयी हैं:

भारी धातुओं का खतरा (Heavy Metals)

नलेस स्टील यह मिश्र धातु क्रोमियम, निकल, मोलिब्डेनम और टाइटेनियम का मिश्रण है। टमाटर, निम्बू जैसे एसिडिक भोजन या खट्टे फल को स्टेनलेस स्टील के बर्तन में पकाने से ये धातुएं भोजन में मिल सकती हैं। इन धातुओं के अत्यधिक सेवन से स्वास्थ्य पर दुष्परिणाम हो सकता है, जिनमें शामिल हैं:

  • निकल: एलर्जी, त्वचा में जलन, दमा, गुर्दे और यकृत को नुकसान, कैंसर का खतरा
  • क्रोमियम: एलर्जी, त्वचा में जलन, पाचन संबंधी समस्याएं, गुर्दे और यकृत को नुकसान
  • मोलिब्डेनम: गठिया, दस्त, सिरदर्द, थकान
  • टाइटेनियम: फेफड़ों की समस्याएं, एलर्जी

उपयोगी जानकारी: एल्युमीनियम के बर्तन में खाना पकाने से क्या होता हैं?

पोषक तत्वों का नुकसान (Nutrition loss)

स्टेनलेस स्टील के बर्तन में खाना पकाने से भोजन में मौजूद कुछ पोषक तत्व नष्ट हो सकते हैं, जैसे:

  • विटामिन B12: यह नर्वस सिस्टम के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है।
  • फोलेट: यह गर्भवती महिलाओं और भ्रूण के लिए महत्वपूर्ण है।
  • विटामिन C: यह रोग प्रतिरोधक शक्ति के लिए महत्वपूर्ण है।

Warning – WHO की चेतावनी: इन 10 चीजों का न करे सेवन

एलर्जी (Utricaria)

कुछ लोगों को स्टेनलेस स्टील से एलर्जी हो सकती है, जिससे त्वचा में जलन, खुजली और लालिमा हो सकती है। एलर्जी अधिक होने पर शरीर पर सूजन और ब्लड प्रेशर में कमी आ सकती हैं।

जंग लगने का खतरा (Rust)

यदि स्टेनलेस स्टील के बर्तनों की अच्छी तरह से देखभाल न की जाए तो उनमें जंग लग सकता है। जंग लगे बर्तनों में खाना पकाने से भोजन में जंग के कण मिल सकते हैं, जो स्वास्थ्य के नजरिए से हानिकारक हो सकते हैं।

Fitness Tip: हमें रोजाना diet से कितनी calories लेना चाहिए ?

स्वाद में बदलाव (Taste)

कुछ खाद्य पदार्थों, जैसे कि अंडे और मछली, का स्वाद स्टेनलेस स्टील के बर्तन में पकाने से बदल सकता है।

जीवाणु (bacteria)

स्टेनलेस स्टील के बर्तन में छोटी छोटी खरोंचे होती है जो आँखों से ऐसे नजर नहीं आती हैं। इनमे बैक्टीरिया होने का खतरा रहता है जिनसे टाइफाइड और पेट ख़राब हो सकता हैं।

जरूर पढ़े: अंकुरित अनाज के स्वास्थ्य संबंधी फायदे

कैंसर (Cancer)

कुछ अध्ययनों से पता चला है कि स्टेनलेस स्टील के बर्तनों में भोजन पकाने से भोजन में BPA (bisphenol A) नामक रसायन रिस सकता है। BPA एक हार्मोन disruptor है जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। इससे कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता हैं।

स्टेनलेस स्टील के बर्तनों में भोजन पकाने से कुछ संभावित स्वास्थ्य प्रभाव हो सकते हैं। इन प्रभावों को कम करने के लिए, निम्नलिखित सावधानियां बरतें:

  • एसिडिक भोजन को स्टेनलेस स्टील के बर्तन में न पकाएं।
  • स्टेनलेस स्टील के बर्तनों को अच्छी तरह से धोकर और सुखाकर रखें।
  • जंग लगे बर्तनों का इस्तेमाल न करें।
  • खाना पकाने के लिए अन्य प्रकार के बर्तनों का भी उपयोग करें, जैसे कि मिट्टी के बर्तन, कांच के बर्तन, या पीतल के बर्तन।

क्या आप जनते हैं: डॉक्टर क्यों देते है पीतल के बर्तन में खाना पकाने और खाने की सलाह

अगर आपको यह जानकारी उपयोगी लगती है तो कृपया इसे शेयर जरूर करे।

अगर आपका स्टेनलेस स्टील के बर्तनों में खाना पकाने और खाने के नुकसान से जुड़ा कोई सवाल है तो नीचे कमेंट में जरूर पूछे।

Leave a comment

क्या इडली सांबर है पौष्टिक आहार? पढ़े डॉक्टर्स की राय