यूरिक एसिड टेस्ट क्या हैं | Uric Acid Test in Hindi

Uric acid blood urine test in Hindi

आमतौर पर गठिया (Gout) या गुर्दे (Kidney) मे खराबी का निदान करने के लिए यूरिक एसिड जांच (Uric Acid Test) किया जाता हैं। अगर आपका ब्लड रिपोर्ट मे यूरिक एसिड का प्रमाण सामान्य स्तर से अधिक आता है तो इसे Hyperuricemia कहा जाता हैं और ऐसा अक्सर Gout रोग मे देखा जाता हैं।

यूरिक एसिड क्या हैं ? (Uric Acid in Hindi)

शरीर मे जब कोशिकाए (Cells) मरती है तब उनसे Purine यह केमिकल निकलता हैं। जब शरीर मे Purine टूटता है तो यूरिक एसिड का निर्माण होता हैं। Purine हमारे आहार पदार्थों मे भी पाया जाता है। यह यूरिक एसिड खून मे घुल जाता है और किडनी द्वारा खून का फ़िल्टर होते समय यह यूरिक एसिड पेशाब मे निकल जाता हैं।

आहार मे अधिक Purine युक्त आहार लेने पर और किडनी मे किसी खराबी से यूरिक एसिड को फ़िल्टर नहीं कर पाता है तब खून मे यूरिक एसिड का प्रमाण बढ़ जाता हैं। यदि आपके रक्त में यूरिक एसिड बनता है, तो यह आपके जोड़ों में और उसके आसपास सुई के आकार के क्रिस्टल बना सकता है। इस स्थिति को गाउट (Gout) कहा जाता हैं। यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने से किडनी खराब होना (Kidney Failure) और किडनी मे पथरी (Kidney Stone) होने का खतरा भी बढ़ जाता हैं।

यूरिक एसिड टेस्ट क्यों किया जाता हैं?

यूरिक एसिड टेस्ट करने के कुछ मुख्य कारण ईस प्रकार हैं:

  1. यूरिक एसिड की मात्रा (Uric Acid Level) : खून मे यूरिक एसिड का प्रमाण जानने के लिए यूरिक एसिड टेस्ट किया जाता हैं।
  2. गाउट (Gout): गाउट एक प्रकार का गठिया है जो तब होता है जब यूरिक एसिड के क्रिस्टल जोड़ों में बन जाते हैं। यूरिक एसिड का प्रमाण ज्यादा आने पर इसे कम करने के लिए Low Purine diet लेना होता है और साथ ही यूरिक एसिड कम करने के लिए दवा दी जाती हैं। दवा लेने के बाद यूरिक एसिड मे कितनी कमी आयी है यह देखने के लिए भी यूरिक एसिड की जांच की जाती हैं।
  3. गुर्दे की पथरी (Kidney Stone): गुर्दे की पथरी तब बनती हैं जब यूरिक एसिड के क्रिस्टल गुर्दे में जमा हो जाते हैं।
  4. कुछ प्रकार के कैंसर (Cancer): कुछ प्रकार के कैंसर, जैसे कि लिम्फोमा और ल्यूकेमिया, शरीर में यूरिक एसिड के उत्पादन को बढ़ा सकते हैं। कैंसर के इलाज मे ज्यादा मात्रा मे कोशिका मृत होती है और अधिक Purine का निर्माण होता है और इसलिए इस समय यूरिक एसिड का प्रमाण देखना जरूरी होता हैं।
  5. कुछ दवाएं (Medicine): कुछ दवाएं, जैसे कि एज़ैथियोप्रिन और लेफ्लुनोमाइड, शरीर में यूरिक एसिड के उत्पादन को बढ़ा सकती हैं।

उपयोगी जानकारी: Gout का कारण, लक्षण और ईलाज

यूरिक एसिड टेस्ट कैसे किया जाता हैं?

यूरिक एसिड टेस्ट दो तरीकों से किया जा सकता है:

  • रक्त परीक्षण (Serum Uric Acid Test): यह सबसे आम तरीका है। इसमे लैब टेक्निशन आपके बांह की नस से एक छोटा सा रक्त नमूना लेगा। रक्त नमूना एक टेस्ट ट्यूब में एकत्र किया जाएगा और एक प्रयोगशाला (laboratory) में भेजा जाएगा। प्रयोगशाला में, यूरिक एसिड के स्तर को मापने के लिए रक्त का परीक्षण किया जाएगा। आमतौर पर यह जांच Gout रोग के निदान के लिए किया जाता हैं। आमतौर पर, आपको ब्लड टेस्ट से पहले 8-12 घंटे तक उपवास करने की आवश्यकता होती है। इसका मतलब है कि आपको खाने या पीने की अनुमति नहीं है, सिवाय पानी के। कुछ डॉक्टर दिन मे किसी भी समय खून जांच कराने की सलाह देते है पर अचूक रिपोर्ट के लिए यह जांच खाली पेट कराए तो बेहतर होता हैं।
  • मूत्र परीक्षण (Urine Uric Acid Test): इस परीक्षण के लिए, आपको 24 घंटे के दौरान सभी अपने मूत्र को एकत्र करना होगा। आपके डॉक्टर आपको एक विशेष कंटेनर देंगे जिसमें आप अपने मूत्र को एकत्र कर सकते हैं। 24 घंटे के बाद, आप कंटेनर को एक प्रयोगशाला में ले जाएंगे। प्रयोगशाला में, यूरिक एसिड के स्तर को मापने के लिए मूत्र का परीक्षण किया जाएगा। आमतौर पर यह जांच किडनी मे खराबी के निदान के लिए किया जाता हैं। आमतौर पर, आपको मूत्र परीक्षण से पहले 24 घंटे तक अपने आहार में कोई बदलाव नहीं करने की आवश्यकता होती है।

महत्वपूर्ण जानकारी: Kidney Failure के लक्षण, प्रकार और निदान

यूरिक एसिड टेस्ट के सामान्य मात्रा कितनी हैं? (Normal Uric Acid test levels in Hindi)

यूरिक एसिड टेस्ट के सामान्य मात्रा की जानकारी नीचे तालिका मे दी गयी हैं:

सीरम यूरिक एसिड लेवल (Blood)सामान्य मात्रा अधिक मात्रा कम मात्रा
पुरुष7 mg/dl>7 mg/dl<7 mg/dl
महिला6 mg/dl>6 mg/dl<6 mg/dl
Serum Uric Acid Test Level in Hindi
यूरिन यूरिक एसिड लेवल (Urine)सामान्य मात्रा अधिक मात्रा
Normal Diet250-750 mg/24hr>750 mg/24hr
Purine Free Diet<400 mg/24hr>400 mg/24hr
High Purine Diet<1000 mg/24hr>1000 mg/24hr
Urine Uric Acid Test Level in Hindi

क्या आप जानते हैं? Kidney Failure के रोगी क्या खाये और क्या नहीं ?

यूरिक एसिड टेस्ट से जुड़े सवालों के जवाब (Uric Acid Test FAQ’s in Hindi)

यूरिक एसिड खून जांच मे कितना खर्च होता हैं?

भारत मे यूरिक एसिड खून जांच मे 150 रुपए से 500 रुपए तक फीस लगती हैं। यह खर्च आप किस शहर मे और किस लैब्रटोरी मे कर रहे है इस बात पर निर्भर करता हैं। यूरिक एसिड खून जांच की लागत कम करने के लिए आप यह जांच सरकारी अस्पतालों या क्लीनिकों में टेस्ट कर सकते हैं या एक ऐसी प्रयोगशाला चुनें जो प्रतिस्पर्धी दरों पर टेस्ट प्रदान करती है या फिर किसी कैम्प मे जांच कर सकते हैं।

यूरिक एसिड खून जांच किसे करवानी चाहिए?

अगर आपको नीचे दिए हुए लक्षण या शिकायत है तो अपने डॉक्टर की सलाह लेकर आपने यूरिक एसिड खून जांच करवानी चाहिए, जैसे की:
1. जोड़ों मे दर्द या सूजन
2. जोड़ों मे जकड़ाहट
3. जोड़ों के पास की त्वचा लाल और गर्म
4. आपको कैंसर का इलाज चल रहा हैं
5. आप कोई ऐसी दवा ले रहे है जिसे लेने से खून मे यूरिक एसिड लेने का खतरा बढ़ जाता हैं।

क्या यूरिक एसिड खून जांच सुबह खाली पेट करना जरूरी हैं?

हाँ, यूरिक एसिड खून जांच सुबह खाली पेट करना जरूरी है। ऐसा इसलिए है क्योंकि भोजन या पेय पदार्थों में मौजूद प्यूरीन्स शरीर में यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ा सकते हैं। खाली पेट होने पर, यूरिक एसिड के स्तर को अधिक सटीक रूप से मापा जा सकता है।
यूरिक एसिड खून जांच से पहले, आपको 8-12 घंटे तक उपवास करने की आवश्यकता होती है। इसका मतलब है कि आपको खाने या पीने की अनुमति नहीं है, सिवाय पानी के।

यूरिक एसिड मूत्र जांच किसे करवानी चाहिए?

अगर आपको नीचे दिए हुए लक्षण या शिकायत है तो अपने डॉक्टर की सलाह लेकर आपने यूरिक एसिड मूत्र जांच करवानी चाहिए, जैसे की:
1. पेट के नीचे हिस्से मे दर्द
2. पेशाब कम होना
3. पेशाब मे खून आना
4. कमर मे दर्द
5. पेशाब करते समय दर्द होना
6. पेशाब मे जलन होना
7. ठंड लगकर तेज बुखार आना
8. जी मचलाना और उलटी होना

यूरिक एसिड खून जांच में यूरिक एसिड बढ़ने का क्या मतलब हैं?

यूरिक एसिड खून जांच में यूरिक एसिड बढ़ने का मतलब है कि आपके शरीर में यूरिक एसिड का स्तर सामान्य से अधिक है। यूरिक एसिड बढ़ने से आपको Gout और Kidney Stone होने का खतरा बढ़ जाता है। यूरिक एसिड बढ़ने पर डॉक्टर आपको यूरिक एसिड कम करने के लिए दवा देते है और साथ ही आपको Low Purine diet लेने की जरूरत होती हैं।

उपयोगी जानकारी: यूरिक एसिड बढ़ने पर कैसा आहार लेना चाहिए ?

यूरिक एसिड टेस्ट यह एक महत्वपूर्ण जांच है और डॉक्टर की सलाह पर अवश्य कराना चाहिए। यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने पर समय पर उपचार लेकर आप इसे आसानी से नियंत्रित कर सकते है और अपने किडनी को खराब होने से बचा सकते हैं।

अगर आपको यह यूरिक एसिड टेस्ट की जानकारी उपयोगी लगती है तो कृपया इसे शेयर जरूर करे। अगर आपके Uric Acid test को लेकर कोई सवाल है तो कृपया नीचे comment मे जरूर पूछे। धन्यवाद !

References:

  1. National Library of Medicine: Uric Acid
  2. Medical News Today – Uric Acid Test

Leave a comment

क्या इडली सांबर है पौष्टिक आहार? पढ़े डॉक्टर्स की राय