Vitamin B12 की कमी के कारण, लक्षण और ईलाज और आहार स्रोत

vitamin b12 ki kami ke karan lakshan ilaj food source Hindi

Vitamin B12, एक विटामिन ऐसा है जो शरीर के स्वास्थ्य के लिए बेहद जरुरी है परन्तु आहार तत्वों में वह पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध न होने से ज्यादातर भारतीय लोगो में इस विटामिन की कमी पायी जाती हैं। Vitamin B12 को Cobalamin भी कहा जाता हैं। यह एकलौता ऐसा विटामिन है जिसमे Cobalt धातु पाया जाता हैं। यह शरीर के स्वास्थ्य और संतुलित कार्य प्रणाली के लिए बेहद आवश्यक विटामिन हैं।

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में विभिन विटामिन्स, मिनरल्स, प्रोटीन्स, कार्बोहाइड्रेट्स और फाइबर इत्यादि की आवश्यकता होती हैं। शरीर के लिए ज्यादातर आवश्यक तत्वों का पोषण आहार पदार्थों से हो जाता हैं।

Vitamin B12 की कमी के लक्षण, इसके कमी से शरीर को क्या नुकसान होता हैं, और किन खाद्य पदार्थो में यह मिलता हैं इसकी अधिक जानकारी नीचे दी गयी हैं :

Vitamin B12 का शरीर में क्या महत्त्व हैं ?  (Vitamin B12 importance in Hindi)

Vitamin B12 शरीर में निम्नलिखित कार्यो के लिए जरुरी होता हैं :

1. RBC : Vitamin B12 शरीर में लाल रक्त कोशिकाओ (Red Blood cells) के निर्माण हेतु जरुरी होता हैं। 
2. रक्त की कमी : Vitamin B12 की कमी के कारण शरीर में रक्त की कमी (Anaemia) हो सकती हैं। 
3. तंत्रिका प्रणाली : Vitamin B12 शरीर में तंत्रिका प्रणाली (Nervous System) को स्वस्थ बनाये रखता हैं। इसकी कमी के कारण मस्तिष्क आघात (Brain Damage) भी हो सकता हैं। 
4. फ़ॉलिक एसिड : Vitamin B12 की कमी के कारण शरीर में Folic acid का अवशोषण नहीं हो पाता हैं। 
5. हृदय रोग : Vitamin B12 की वजह से ह्रदय रोग का खतरा कम रहता हैं। 
6. कैंसर : Vitamin B12 की वजह से कर्करोग और Alzheimer’s जैसे रोगों का खतरा कम रहता हैं। 
7. ऊर्जा : Vitamin B12 शरीर में उर्जा का संचार करता है और बुढापे को दूर रखता हैं। 
8. रोग प्रतिकार शक्ति : Vitamin B12 शरीर की रोग प्रतिकार शक्ति बढाता है और साथ ही तनाव से निपटने में मदद भी करता हैं। Vitamin B12 को इसीलिए “Anti-Stress Vitamin” भी कहा जाता हैं। 

Vitamin B12 की कमी का क्या कारण हैं ?  (Vitamin B12 deficiency causes in Hindi)

शरीर में Vitamin B12 की कमी के निम्नलिखित कारण हैं :
1. Pernicious Anaemia : हजारो में किसी एक को यह रोग होता हैं। Intrinsic Factor यह एक प्रोटीन का प्रकार है जो की Vitamin B12 के अवशोषण के लिए जरुरी होता हैं। कुछ लोगो में इसकी कमी के कारण आहार से Vitamin B12 शरीर में अवशोषण नहीं होता हैं और परिणामतः Vitamin B12 की कमी हो जाती हैं। 
2. छोटी आँत : जिन लोगो में किसी वजह से operation कर आमाशय या छोटी आंत का कुछ हिस्सा निकाल देते हैं उनमे Vitamin B12 की कमी पाई जाती हैं। 
3. शाकाहार : जो व्यक्ति केवल शाकाहार लेते हैं और कम प्रमाण में दुग्धजन्य पदार्थ लेते हैं। 
4. एसिडिटि : जो व्यक्ति अम्लपित्त / Acidity से पीड़ित है और उसके लिए PPI दवा हमेशा लेते हैं जैसे की Pantoprazole, Omeprazole इत्यादि। 
5. पाचन शक्ति : जिन लोगो की पाचन शक्ति कमजोर है या पेट के रोग से पीड़ित हैं। 
6. अल्सर : जिन व्यक्तिओ को पेट में व्रण / ulcer हैं। 

Vitamin B12 की कमी के क्या लक्षण हैं ? (Vitamin B12 deficiency symptoms in Hindi)

Vitamin B12 की कमी के निम्नलिखित लक्षण हैं :
1. कमजोरी, जल्दी थक जाना, आलस 
2. रक्त की कमी 
3. कमजोर पाचन शक्ति 
4. सरदर्द 
5. भूक कम लगना 
6. हाथ-पैर में झुनझुनी होना या बधिरता (Tingling Numbness)
7. कान में आवाज आना / घंटी बजना 
8. त्वचा में पीलापन 
9. धड़कन तेज होना 
10. मुँह में छाले आना 
11. याददाश्त कम होना 
12. आँखों में कमजोरी 
13. अवसाद, चिडचिडापन, भ्रम 
14. अनियमित मासिक 
15. कमजोर रोग प्रतिकार शक्ति 

Vitamin B12 की कमी का निदान कैसे किया जाता हैं ?

Vitamin B12 की कमी का निदान करने के लिए निम्नलिखित जांच किये जाते हैं :
1. Serum Vitamin B12 Test : यह एक प्रकार की रक्त जांच है जिसमे रक्त में लाल रक्त कण और Vitamin B12 की मात्रा का पता चलता हैं। Vitamin B12 के normal level 160 से 950 pg/mL है।
2. Bone marrow biopsy : इस परिक्षण में अस्थि मज्जा का परिक्षण किया जाता हैं और Vitamin B12 की मात्रा का पता चलता हैं। 
3. Antibody Test : इस परिक्षण में intrinsic factor के antibodies की जांच की जाती है जिससे की Pernicious Anaemia का निदान किया जाता हैं। 
4. Schilling Test : इस जांच में शरीर में radio-active Vitamin B12 देकर intrinsic factor की जांच की जाती हैं। 

Vitamin B12 की कमी का ईलाज कैसे किया जाता हैं ? (Vitamin B12 deficiency treatment in Hindi)

Vitamin B12 की कमी में निम्नलिखित उपचार किया जाता हैं :
1. इंजेक्शन : Vitamin B12 की कमी को करने के लिए स्नायु में Injection Hydroxycobalamin दिया जाता हैं। रोगी में Vitamin B12 की कमी अनुसार यह इंजेक्शन एक या दो दिन छोड़कर एक महीने तक दिया जाता हैं। जरुरत पड़ने पर 3 महीने बाद बूस्टर डोज दिया जाता हैं। समय-समय पर रोगी की रक्त जांच की जाती है और कमी रहने पर इंजेक्शन का कोर्स लेना पड़ता हैं। 
2. दवा : Vitamin B12 की कमी बेहद ज्यादा न होने पर डॉक्टर आपको Vitamin B12 (Methylcobalamin) की गोली लिखकर दे सकते हैं। आजकल जीभ के नीचे रखकर लेने की दवा दी जाती है जो कि जल्दी से खून में अवशोषित हो जाती है । कई बार पेट में एसिड के कारण दवा ठीक से अवशोषित नहीं होती इसलिए जीभ के नीचे रखी जानेवाली Sub Lingual दवा का इस्तेमाल किया जाता है।

Vitamin B12 की कमी दूर करने के लिए कौन से आहार लेना चाहिए ? (Vitamin B12 food source in Hindi)

इंजेक्शन और दवा के साथ रोगी को आहार में Vitamin B12 युक्त आहार का समावेश करना जरुरी हैं। शाकाहारी व्यक्ति ने अपने आहार में दूध, दही, चीज जैसे दूध से बने हुए आहार और ऐसा आहार जिसमे फोर्टीफाईड Vitamin B12 है का समावेश करना चाहिए। इसके अलावा आप Vitamin B 12 के लिए संतरा, केला, ब्लू बेरी और सेब जैसे फल खा सकते है जिनमे कुछ प्रमाण में यह पाया जाता हैं। मांसाहारी व्यक्ति अपने आहार में Vitamin B12 से भरपूर अंडा, चिकन, लैम्ब और सी फ़ूड ले सकते हैं। 

हेम रोज़ाना कितने मात्रा में Vitamin B12 की आवश्यकता होती है ? (Vitamin B12 daily requirement in Hindi)

आयु, लिंग और अवस्था के हिसाब से हर रोज कितने मात्रा में Vitamin B12 लेना चाहिए इसकी जानकारी नीचे दिए हुए तालिका (table) में दी गयी हैं। 

आयु (Age)पुरुष (Male)महिला (Female)गर्भावस्था (Pregnancy)दुग्धपान (Lactation)
0-6 महीने 0.4 mcg0.4 mcg
7-12 महीने0.5 mcg0.5 mcg
1-3 वर्ष 1.2 mcg1.2 mcg
4-8 वर्ष 1.8 mcg1.8 mcg
9-13 वर्ष 1.8 mcg1.8 mcg
14+ वर्ष 2.4 mcg2.4 mcg2.6 mcg2.8 mcg
Vitamin B12 daily requirement in Hindi

अगर आपको यह Vitamin B12 की कमी के कारण, लक्षण और उपचार और आहार स्रोत लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर Whatsapp, Facebook  या Tweeter पर share जरुर करे !  

Rate this post

26 thoughts on “Vitamin B12 की कमी के कारण, लक्षण और ईलाज और आहार स्रोत”

  1. में जब भी थोड़े से समय के लिए पलाठी मार के बैठता हु टी मेरे पैरों में सुन्नपन से आजाता है क्या ये भी B12 की कमी का कारण है 5 से 10 मिनिट भी में पालथी मार के नही बेथ सकता हु
    मेरी समस्या का समाधान करे।

    Reply

Leave a comment