इस फॉर्मूला से जाने आपको Diabetes होने का कितना है खतरा !

diabetes test information in Hindi

आज दुनिया में भारत मधुमेह / Diabetes के रोगियों की संख्या में दूसरे नंबर पर आता हैं। अगर डायबिटीज के मामले ऐसे ही बढ़ते रहे तो वह दिन दूर नहीं जब हमारा देश डायबिटीज के मामले में विश्व में नंबर १ बन जाए। डायबिटीज से जुड़े कई लेख हम पहले ही इस ब्लॉग पर प्रकाशित कर चुके हैं जिन्हे आप यहाँ पढ़ सकते हैं – डायबिटीज की सम्पूर्ण जानकारी।

आज के इस लेख में हम आपको Madras Diabetes Research Foundation, Chennai के Diabetes Specialist डॉ मोहन द्वारा बताए गए एक विशेष फार्मूला की जानकारी देने जा रहे है जिसके माध्यम से आप यह पता कर सकते हैं की आपको डायबिटीज होने का खतरा कितना ज्यादा है। एक बार अगर आपको इसकी जानकारी पता चल जाए तो आप उचित उपाय योजना कर आपको डायबिटीज होने के खतरे को कम कर सकते हैं।

डॉ मोहन द्वारा दिए गए इस विशेष फार्मूला की विस्तार में जानकारी नीचे दी गयी हैं :

आपको डायबिटीज होने का खतरा कितना हैं ?

कोई भी व्यक्ति नहीं चाहेगा की उसे डायबिटीज जैसी बीमारी हो जो की एक धीमे जहर की तरह है और जिससे शरीर पर प्राणघातक दुष्परिणाम भी होते हैं। हमारे आसपास ऐसे कई लोग है जिन्हे डायबिटीज होने का खतरा है पर जानकारी के अभाव में लोग कोई विशेष उपाय नहीं करते है और अंत में उन्हें डायबिटीज जैसी बीमारी हो जाती हैं।

डॉ मोहन द्वारा डायबिटीज होने का खतरा पता लगाने के इस फार्मूला में कुछ अलग-अलग वर्ग (Category) बताये है और हम जिस वर्ग में आते है उस अनुसार हमें कुछ अंक (Point) मिलते हैं। अंत में सभी अंक की गिनती की जाती है और वह संख्या कितनी है उस हिसाब से हमें डायबिटीज के खतरे का पता चलता हैं।

उपयोगी जानकारी – डायबिटीज में कौन सा योगा करना चाहिए ?

वर्ग 1 – उम्र / Age
diabetes-formula-in-hindi-age
  • अगर आपकी उम्र 35 वर्ष से कम है तो आपका score है 0
  • अगर आपकी उम्र 35 वर्ष से 49 वर्ष के बिच है तो आपका score हैं 20
  • अगर आपकी उम्र 50 वर्ष या इससे अधिक है तो आपका score है 30

इस वर्ग से हमें यह पता चलता है की जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है आपको डायबिटीज होने का खतरा बढ़ते जाता हैं।

वर्ग 2 – मोटापा / Obesity 
diabetes-formula-in-hindi-obesity
इस वर्ग में आपको Measuring Tape की सहायता से नाभि के ऊपर अपने पेट का माप सेंटीमीटर (cm) में लेना हैं।
  • महिलाओं में अगर पेट का माप 80 cm से कम है तो score है 0
  • पुरुष में अगर पेट का माप 90 cm से कम है तो score है 0
  • महिलाओं में अगर पेट का माप 80 cm से 89 cm के बिच हैं तो score है 10
  • पुरुष में अगर पेट का माप 90 cm से 99 cm के बिच हैं तो score है 10
  • महिलाओं में अगर पेट का माप 90 cm या इससे ज्यादा है तो score है 20
  • पुरुष में अगर पेट का माप 100 cm या इससे ज्यादा है तो score है 0

इस वर्ग से हमें यह पता चलता है की जितना ज्यादा मोटापा होता है डायबिटीज होने का खतरा भी उतना ज्यादा होता हैं।

जरूर पढ़े – डायबिटीज में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं ?

वर्ग 3 – शारीरिक गतिविधि / Physical Activity
diabetes-formula-in-hindi-physical-activity
  • अगर आप रोजाना व्यायाम करते है और साथ में ऐसा काम करते है जिसमे दिनभर मेहनत करनी पड़ती है तो आपका score है 0
  • अगर आप रोजाना व्यायाम करते है या फिर ऐसा काम करते है जिसमे दिनभर मेहनत करनी पड़ती है (दोनों में से केवल एक) तो आपका score है 20
  • अगर आप ना तो कोई व्यायाम करते है ना ही कोई मेहनत का काम करते है और सिर्फ आरामदायक जीवन जीते है तो आपका score है 30

इस वर्ग से हमें यह पता चलता है की हम जितनी म्हणत करेंगे या व्यायाम करेंगे हम डायबिटीज होने का खतरा उतना ही कम होगा।

वर्ग 4 – पारिवारिक ईतिहास / Family History
diabetes-formula-in-hindi-family-history
  • अगर आपके परिवार अभी तक किसी को भी डायबिटीज नहीं है तो आपका score है 0
  • अगर आपके परिवार में किसी एक पालक (माँ या पिताजी) को डायबिटीज है तो आपका score है 10
  • अगर आपके परिवार में माँ और पिताजी इन दोनों को डायबिटीज है तो आपका score है 20
इस वर्ग से हमें यह पता चलता है की डायबिटीज में पारिवारिक ईतिहास देखना भी जरुरी है और अगर हमारे परिवार में किसी को डायबिटीज है तो हमने ज्यादा सचेत रहना चाहिए।
डायबिटीज होने का खतरा
diabetes-score-in-hindi
ऊपर दिए हुए चारों वर्ग के score को मिलाकर कितना score होता है इस पर आपको डायबिटीज का खतरा कितना अधिक है यह पता किया जाता हैं।
  1. अधिक खतरा – अगर कुल मिलाकर आपका score 60 या इससे अधिक है तो आपको डायबिटीज होने का खतरा बेहद ज्यादा हैं। ऐसे में आपने तुरंत अपने डॉक्टर से मिलकर शुगर की जांच कराना चाहिए। अगर मोटापा अधिक है तो रोजाना व्यायाम और आहार परिवर्तन कर अपने मोटापे को कम करना चाहिए। डायटीशियन की सहायता से अपना डाइट प्लान करना चाहिए। हर साल डॉक्टर से मिलकर शुगर जांच कराते रहे।
  2. मध्यम ख़तरा – अगर कुल मिलाकर आपका score 30 से 59 के बिच आता है तो आपको डायबिटीज होने का खतरा मध्यम हैं। ऐसे आपने तुरंत अपने डॉक्टर से मिलकर अपनी शुगर जांच कराना चाहिए। अपने वजन को नियंत्रित रखना चाहिए।
  3. कम खतरा – अगर कुल मिलाकर आपका score 30 से कम है तो आपको घबराने की जरुरत नहीं हैं। हर वर्ष इस फार्मूला की सहायता से अपना स्कोर पता करे और अगर स्कोर बढ़ता है तो ऊपर बताये हुए उपाय का पालन करे।

मित्रों, ऊपर बताये हुए डॉ मोहन जी के फार्मूला से हमें यह पता चलता है की हमें डायबिटीज होने का खतरा कितना हैं। यह ज्यादातर मामलों में सही आता है और इसकी सहायता से हम डायबिटीज के खतरे को जल्द पहचान सकते हैं। यह फार्मूला विशेषकर Type 2 Diabetes में सही आता हैं।

आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा। अगर आपको कोई सवाल है तो हमें निचे कमेंट करे ।
अगर आपको यह जानकारी उपयोगी लगती है तो कृपया इसे शेयर जरूर करे !

Leave a comment

किडनी ख़राब होने के यह है प्रमुख 7 लक्षण