HbA1c test क्या हैं | HbA1c test in Hindi

diabetes hba1c test information in Hindi

आमतौर पर मधुमेह (Diabetes) के रोगियों की HbA1c test के साथ कई तरह की रक्त जांच की जाती हैं। भूखे पेट की रक्त जांच (Fasting Blood Sugar Test) या खाना खाने के बाद की रक्त जांच (Post Prandial Blood Test) से ज्यादातर रोगी परिचित होते हैं। इन दो जांच के अलावा भी कुछ blood test है जिसकी information हर diabetes के रोगी को होना बेहद आवश्यक हैं।

कभी-कभी कुछ डॉक्टर आपके मधुमेह का निदान करने के लिए या मधुमेह का नियंत्रण जानने के लिए  Glycated Hemoglobin (HbA1c) test करने की सलाह देते हैं। रोगी व्यक्ति को इस जांच की विशेष जानकारी नहीं होने के कारण या इसका खर्च आमतौर पर 500 से 1000 रूपए से अधिक होने के कारण यह जांच नहीं कराते हैं।

पढ़े – Insulin का injection कैसे और कहा देना चाहिए ?

मधुमेह से पीड़ित व्यक्तिओ की HbA1c test को लेकर भ्रम की स्तिथि को दूर करने के लिए आज हम यहाँ पर HbA1c test संबंधी उपयोगी जानकारी दे रहे हैं। अधिक जानकारी के लिए निचे पढ़े :

HbA1c test क्या हैं ? (HbA1c test in Hindi)

HbA1c test, यह एक ऐसी रक्त जांच है जिसमे हमें पीड़ित व्यक्ति के पिछले 2-3 महीने की औसत रक्त शर्करा (Average Blood Glucose) के मात्रा की जानकारी प्राप्त होती हैं। Glycated Hemoglobin का मतलब होता हैं आपके रक्त में हिमोग्लोबिन से ग्लूकोस जुड़ गया हैं। 10% Glycated Hemoglobin का मतलब होता हैं की 10 % हिमोग्लोबिन से ग्लूकोस जुड़ गया हैं। इससे हम मधुमेह की तीव्रता के बारे में जान सकते हैं।

  • HbA1c test से हमें यह पता चलता है की मधुमेह नियंत्रित है की नहीं।
  • HbA1c test करने के लिए हम किसी भी समय रक्त का नमूना (sample) दे सकते हैं।
  • 6% Glycated Hemoglobin का मतलब होता है की आपकी पिछले 2 से 3 महीने की औसत रक्त शर्करा मात्रा 135 mg/dl हैं।
  • हर 1% Glycated Hemoglobin की वृद्धि के साथ रक्त शर्करा में 35 mg/dl की वृद्धि होती हैं, मतलब अगर आपका HbA1c test का परिणाम 10%  है तो आपकी औसत रक्त शर्करा 275 mg/dl हैं।

इसकी अधिक जानकारी नीचे table में दी गयी हैं।

HbA1c test परिणाम (%)औसत रक्त शर्करा (mg/dl)
6135
7170
8205
9240
10275
11310
12345

क्या आप जानते है – Diabetes के रोगी ने कौन से Yoga करना चाहिए ?

HbA1c test के फायदे क्या हैं ?

  • HbA1c test के परिणाम से हम Diabetes का diagnosis भी कर सकते हैं और diabetes के control का आकलन भी कर सकते हैं।
  • HbA1c test के परिणामों को देख कर डॉक्टर आपके दवा में आवश्यक फेरबदल भी कर सकते हैं जिससे की आपकी रक्त शर्करा हमेशा नियंत्रण में रहे और मधुमेह के दुष्परिणाम से आपको दूर रखा जाए।

HbA1c test रिपोर्ट का लेवल कितना होना चाहिए? (HbA1c test normal value in Hindi)

  • HbA1c test का परिणाम और निष्कर्ष निचे दिया हुआ हैं :
HbA1c test का परिणामनिष्कर्ष
सामान्य औसत रक्त शर्करा मात्रा (Normal Blood Sugar Level)5.6 % या उससे कम
Prediabetes5.7 % से 6.4 % के बिच
मधुमेह (Diabetes)6.5 % या उससे ज्यादा
नियंत्रित मधुमेह (Controlled Diabetes)6.5% से 8% के बिच
अनियंत्रित मधुमेह (Uncontrolled Diabetes)8% या उससे ज्यादा
HbA1c test Report Chart
  • अगर आपकी Glycated Hemoglobin की मात्रा अधिक हैं तो आपने अपने डॉक्टर की सुचना का पालन कर उसे नियंत्रण में लाना बेहद आवश्यक हैं।
  • अगर आपका Glycated Hemoglobin ज्यादा है और आप उसमे आहार, दवा और व्यायाम से केवल 1% की कमी लाते है तो आपको भविष्य में मोतियाबिंद (Cataract) होने की आशंका में 19% कमी आती हैं, हृदयरोग (Heart disease) होने की आशंका में 16% कमी आती हैं और सूक्ष्म रक्तवाहिनी रोग के कारण होनेवाली समस्याओ में 43% तक की कमी आती हैं।
  • HbA1c test की सिर्फ एक खामी हैं की अगर आपके शरीर में हिमोग्लोबिन की मात्रा सामान्य से कम हैं तो इस जांच का परिणाम (result) गलत हो सकता हैं।

अगर आपको मधुमेह हैं या आप मोटापे के शिकार है या आप में मधुमेह के लक्षण हैं या आपके परिवार में किसी को मधुमेह हैं तो अपने डॉक्टर से मिलकर मधुमेह के निदान और नियंत्रण के लिए यह जांच अवश्य कराये। मधुमेह से पीड़ित व्यक्तिओ ने यह जांच साल में एक बार अवश्य कराना चाहिए।

आवश्यक जानकारी – क्या diabetes का रोगी चावल खा सकता हैं ?

HbA1c test से जुड़े सवालों के जवाब (HbA1c test FAQ in Hindi)

HbA1c क्या हैं?

HbA1c एक प्रकार का हीमोग्लोबिन है जो ग्लूकोज से जुड़ जाता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं में पाया जाता है, जो लगभग 3 महीने तक जीवित रहती हैं। इसलिए, HbA1c का स्तर पिछले 3 महीनों में रक्त शर्करा के स्तर का एक औसत माप (average value) है। इसे Glycated Hemoglobin भी कहा जाता हैं।

HbA1c बढ़ने से क्या होता है?

HbA1c बढ़ने का मतलब आपको या तो मधुमेह है या मधुमेह होने का खतरा हैं। अगर आपका HbA1c बढ़ा हुआ आता है तो आपने अपने डॉक्टर से मिलकर जरूरी उपचार शुरू करना चाहिए और Diabetic Diet लेना चाहिए।

ब्लड शुगर और HbA1c में क्या अंतर है?

ब्लड शुगर और HbA1c के बीच मुख्य अंतर यह है कि ब्लड शुगर एक तत्काल माप है, जबकि HbA1c एक औसत माप है। ब्लड शुगर आपको यह बता सकता है कि किसी भी समय आपके रक्त में कितनी ग्लूकोज है, जबकि HbA1c आपको यह बता सकता है कि पिछले 2-3 महीनों में आपके रक्त में औसत ग्लूकोज का स्तर कितना था।

HbA1c को कैसे कम करे?

HbA1c को कम करने के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं:
1. स्वस्थ आहार खाएं: स्वस्थ आहार में फल, सब्जियां, साबुत अनाज और कम वसा वाले प्रोटीन शामिल होना चाहिए। इन खाद्य पदार्थों में फाइबर, विटामिन और खनिज होते हैं जो रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।
2. नियमित रूप से व्यायाम करें: व्यायाम रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है। वयस्कों को सप्ताह में कम से कम 150 मिनट मध्यम-तीव्रता वाले एरोबिक व्यायाम या 75 मिनट उच्च-तीव्रता वाले एरोबिक व्यायाम करने की सलाह दी जाती है।
3. अपने वजन को नियंत्रित रखें: वजन बढ़ने से रक्त शर्करा का स्तर बढ़ सकता है। स्वस्थ वजन बनाए रखने से रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।
4. धूम्रपान छोड़ दें: धूम्रपान रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ा सकता है। धूम्रपान छोड़ने से रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद मिल सकती है।
5. अपने डॉक्टर के निर्देशों का पालन करें: यदि आपको टाइप 2 डायबिटीज है, तो अपने डॉक्टर के निर्देशों का पालन करना महत्वपूर्ण है। इसमें दवाएं लेना, नियमित रूप से रक्त शर्करा की जांच करना और स्वस्थ जीवन शैली अपनाना शामिल है।

क्या हम बिना दवाई के HbA1cकम कर सकते हैं?

हाँ, आप बिना दवाई के HbA1c को कम कर सकते हैं। रोजाना कम से कम 1 घंटा व्यायाम, समतोल स्वस्थ आहार और वजन नियंत्रण कर आप अपने स्वस्थ जीवन शैली में बदलाव करके HbA1c कम कर सकते हैं। ध्यान रहे की बिना डॉक्टर की सलाह लिए आपको अपने Diabetes की दवा बंद नहीं करना हैं।

यदि HbA1c 8% है तो क्या होता हैं?

अगर आपका HbA1c 8% या इससे अधिक है तो यह दर्शाता है की आपका मधुमेह (Diabetes) मे नहीं है। मधुमेह अनियंत्रित होने पर इसके शरीर पर गंभीर दुष्परिणाम होते हैं जैसे की दिल का दौरा, स्ट्रोक, नेत्र रोग, गुर्दे की बीमारी, पैर की समस्याएं (Gangrene) इत्यादि। आपको तरंत अपने डॉक्टर से मिलकर अपने बढ़े हुए शुगर लेवल को कंट्रोल मे लाना चाहिए।

अगर आपको यह मधुमेह की Glycated Hemoglobin (HbA1c) test संबंधी जानकारी  उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Whatsapp,  Facebook  या Tweeter account पर share जरुर करे !

Keywords : Glycated Hemoglobin / HbA1c test information in Hindi. What is HbA1c? मधुमेह की Glycated Hemoglobin (HbA1c) test संबंधी जानकारी

16 thoughts on “HbA1c test क्या हैं | HbA1c test in Hindi”

Leave a comment

अस्थमा अटैक से घबराते हैं? अब नहीं होगा अटैक, आजमाएं ये 9 योग ट्रिक