झुर्रियां दूर करने के घरेलु आयुर्वेदिक उपचार | Home remedies for Wrinkles in Hindi

Home remedies for Wrinkles in Hindi

कई लोग उम्र बढ़ने के साथ झुर्रियों (Wrinkles) से परेशान होते है और झुर्रियाँ मिटाने के लिए उपचार और घरेलु नुस्खे की खोज करते हैं। जैसे-जैसे उम्र बढती है, त्वचा में भी ढीलापन और झुर्रियां / Wrinkles आ जाती हैं। परन्तु कई बार कम आयु में भी झुर्रियां होने लगती हैं, जिन्हें देखकर सौन्दर्य के प्रति जागरूक स्त्री का चिंतित होना स्वाभाविक हैं क्योंकि झुर्रियां चेहरे के सौन्दर्य को जो बिगाड़ देती हैं। 

चेहरे पर असमय झुर्रियां न पड़े इसके लिए जरुरी है की आप मानसिक तनाव से बचे रहे जोर-जोर से हंसने, रोने, सोचने या तनाव ग्रस्त रहने से त्वचा पर भी इसका विपरीत परिणाम पड़ता हैं। त्वचा फैलने और सिकुड़ने के कारण त्वचा का लचीला पण समाप्त हो जाता हैं और रेखाए स्पष्ट नजर आने लगती हैं और यह रेखाए धीरे-धीरे झुर्रियां में बदल जाती हैं। 

आँखे, गाल, माथा और मुंह के आस-पास की त्वचा झुर्रियां से अधिक प्रभावित होती हैं। झुर्रियां पड़ने के कारण, घरेलु उपचार और इनसे बचने के उपाय संबंधी अधिक जानकारी निचे दी गयी हैं। 

झुर्रियां पड़ने के क्या कारण हैं ?

झुर्रियां पड़ने के प्रमुख कारण निचे दिए गए हैं :

1. भोजन : अनियमित व असंतुलित भोजन भी झुर्रियां का एक प्रमुख कारण हैं। अनियमित और पौष्टिक गुणों से रहित भोजन करने से शरीर के सप्त धातुओं का अनुपात बदल जाता हैं और चेहरे पर झुर्रियां आने लगती हैं। 
2. उम्र : उम्र के बढ़ने के साथ-साथ त्वचा पर झुर्रियां इसलिए आती हैं क्योंकि उम्र के साथ-साथ त्वचा पर भी दबाव बढ़ने लगता हैं लगभग 30 से 35 वर्ष की उम्र में त्वचा की तैलीय ग्रंथियां शुष्क हो जाती हैं और त्वचा में नमी की मात्रा भी कम हो जाती हैं, जिसमे त्वचा में झुर्रियां पड़ जाती हैं। 
3. त्वचा : सुखी त्वचा (Dry skin) पर झुर्रियां का असर जल्द पड़ता हैं। 
4. सूर्यकिरण : ज्यादा समय तक धुप में रहने से चेहरे पर झुर्रिया पड़ने का खतरा रहता हैं। सुबह 10 से दोपहर 2 के बीच सूर्यकिरणों से बच कर रहना चाहिए।  
5. धूम्रपान : धूम्रपान करने से आपके चेहरे की त्वचा का एक विशेष तत्व Collagen नष्ट हो जाता हैं। आप जितना अधिक स्वयं धूम्रपान करते है या धूम्रपान करनेवाले व्यक्ति के पास रहते है उतना अधिक यह तत्व नष्ट होकर चेहरे की त्वचा पर झुर्रियां पड़ जाती हैं। 

चेहरे पर झुर्रियां पड़ने से बचने के लिए क्या एहतियात बरतने चाहिए ?

चेहरे को झुर्रियां से बचाने के लिए निचे दी हुई बातों पर गौर करना
चाहिए :
1. चेहरे का व्यायाम : मुंह में हवा भरकर गालों को फुलाए फिर उंगलियों से आँख व नाक बंद करे और एक से तीन मिनिट बाद हवा बाहर छोड़ दे। यह अभ्यास दिन में दो बार करना चाहिए। 
2. नशा : चाय, कॉफ़ी, सिगरेट, शराब, आदि नशीली पदार्थों से बचे क्योंकि इनमे पाचन क्रिया कमजोर हो जाती हैं जिससे खून ठीक तरह से नहीं बन पाता और झुर्रियां पड़ने लगती हैं। 
3. ताजी हवा : प्रातःकाल शुद्ध हवा में सैर अवश्य करे शुद्ध हवा चेहरे पर ताजगी ला देती है और झुर्रियां कम करती हैं। 
4. संतुली आहार : संतुलित आहार लेना चाहिए जिसमे फलों की भी भरपूर मात्रा होनी चाहिए। चेहरे पर झुर्रियां से बचाव में अंकुरित चने एवं मुंग को प्रातः सायं सेवन भी लाभदायक हैं क्योंकि इनमे Vitamin E होता हैं जो झुर्रियां को दूर करने में सहायक हैं। Vitamin C से भरपूर खट्टे फल जैसे की संतरे, निम्बू और अंगूर का सेवन अवश्य करे। इनसे चेहरे में collagen बना रहता हैं। 
5. सूर्यप्रकाश : सूर्य के तेज प्रकाश में जाने से बचे, क्योंकि तेज धुप त्वचा की नमी सोखकर त्वचा को सिकोड़ देती हैं जिससे आँखों के निचे झुर्रियां पड़ने की संभावना पड़ जाती हैं। सुबह 10 से दोपहर 2 की तेज धुप से बचना चाहिए। अगर तेज धुप में जाना आवश्यक है तो अपने चेहरे पर 30 SPF का Sun Screen Lotion अवश्य लगाये। 

चेहरे की झुर्रियों को मिटाने के क्या उपाय हैं ?

झुर्रियां हो जाने की स्तिथि में निचे दिए हुए कारगर 10 घरेलु उपाय करने चाहिए :

1. पपीता : पके हुए पपीते का टुकड़ा काटकर चेहरे पर मलने से लाभ होता हैं।  
2. मलाई : आधा चमच्च दूध की ठंडी मलाई में निम्बू के रस की 4 से 5 बुँदे मिलाकर रात को सोते समय झुर्रियों के स्थान पर अच्छे से मले। सुबह गुनगुने पानी से चेहरा धो ले। 15 से 20 दिन तक ऐसा करने से झुर्रियां दूर होने लगती हैं। 
3. गोभी : गोभी की पत्तियों को पीसकर रस निकाल ले, फिर उसमे थोड़ा सा शहद मिलाये। इस मिश्रण को चेहरे और गर्दन पर लगाकर 15 मिनिट तक सकने दे और कुछ समय बाद पानी से धो ले। इससे झुर्रियां मिटेंगी। 
4. मुली : मूली के रस में समान मात्रा में मक्खन मिलाकर चेहरे पर लगाये। कुछ समय बाद चेहरा पानी से धो ले। ऐसा रोजाना करने से झुर्रियां मिटती हैं। 
5. बादाम : बादाम की 4 से 5 पीसी हुई गिरी में 4 चमच्च खीरे का रस, 2 चमच्च मुलतानी मिटटी मिलाकर पेस्ट बना ले। इस पेस्ट को चेहरे पर प्रतिदिन 20 मिनिट तक लगाये। इसके नियमित प्रयोग से झुर्रियां दूर होती हैं। 
6. मुल्तानी मिट्टी : थोड़ी सी मुलतानी मिटटी में गुलाब जल या दूध मिलाकर पेस्ट बना ले और इसे चेहरे पर लगाये, सूखने के बाद चेहरा गुनगुने पानी से धो ले। झुर्रियां मिटाने का यह एक कारगर उपाय हैं। 
7. मुंह धोना : रोजाना रात को सोने से पहले चेहरे की त्वचा पर जमा हुआ मैल पानी से अच्छी तरह साफ़ करे। 
8. मॉइस्चराइजर : त्वचा से पानी की नमी को बाष्पीकरण से बचाने के लिए सौंदर्य विशेषज्ञ की राय लेकर मॉइस्चराइजर का प्रयोग करे। 
9. पानी पिए : प्रतिदिन मौसम की हिसाब से उचित मात्रा शुद्ध पानी पीना चाहिए ताकि त्वचा में नमी बनी रहे। 
10. फेस मास्क : बेल, नीम और तुलसी के 10-10 पत्तों को लेकर उन्हें 2 चमच्च दही में मिलाकर पिंस ले, फिर चेहरे पर लगाये। इस मिश्रण को लगाने से रंग भी निखरेंगा और झुर्रियां भी दूर हो जाएँगी।  

चेहरे पर झुर्रियां (Wrinkles) पड़ना एक बेहद परेशान करनेवाली समस्या होती हैं। समय पर उचित उपाय और एहतियात बरतकर हमें इनसे बच सकते हैं और हमेशा स्वस्थ और जवान नजर आ सकते हैं। अगर ऊपर दिए हुए घरेलु उपाय से आपको राहत नहीं मिलती हैं तो सौंदर्य विशेषज्ञ के पास जाकर आप दवा और इंजेक्शन से अपना उपचार करा सकते हैं। 

मैं यहाँ पर विशेष धन्यवाद करना चाहूंगा सौंदर्य विशेषज्ञ क्षितिजा गोस्वामीजी का जिन्होंने यह उपयोगी जानकारी यहाँ पर साझा की हैं। 

अगर आपको यह लेख स्वास्थ्य की दृष्टी उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Facebook या Tweeter account पर share अवश्य करे !

1 thought on “झुर्रियां दूर करने के घरेलु आयुर्वेदिक उपचार | Home remedies for Wrinkles in Hindi”

Leave a comment

किडनी ख़राब होने के यह है प्रमुख 7 लक्षण